दिवाली पर निबंध (Diwali Essay in Hindi) दीपावली पे निबंध हिंदी में

हेलो दोस्तों कैसे है. आप लोग आशा करता हूँ. आप ठीक होंगे आज आपके लिए ये Article (Diwali Essay in Hindi दिवाली पर निबंध) बहुत ही उपयोगी होने वाला है. अगर आप एक student है. तो इस Post essay on diwali in hindi को पूरा जरूर पढ़ें। क्यूंकि Diwali के ऊपर लेख लिखने के लिए कई बार School और Examination अधिकतर Question पूछा जाता है.
diwali essay in hindi
जैसा की हम सब को पता है. की Diwali और Chhat Puja हिन्दुओं के लिए सबसे बड़ा त्यौहार है. और ये Diwali  त्यौहार भारत देश में सब हिन्दू भाई बहुत ही धूम -धाम से मानते है. और Diwali  सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि जो भी  Indian भारत से बाहर रहते वो भी वहां पे Diwali को बहुत ही धूमधाम से मानते है.
Diwali पूजा के दिन लोग अपने घर को साफ़ सफाई करके lakxmi और Ganesh Ji की नई मूर्ति को अपने घर में अस्थापित करते है. और शाम को पुरे परिवार नया वस्त्र धारण करके पूजा करते। लक्ष्मी जी की पूजा करने से धन और  सुख प्राप्त होती है. तो आज हम इस Post "essay on diwali in hindi for kids" में आपको Diwali का त्यौहार कैसा होता है. Deepawali का महत्व क्या है?  दीपावली क्यों मनाते है? Diwali का अर्थ क्या है?  दिवाली पर निबंध (essay on diwali in hindi) आदि।

Sarkari Result आप यहाँ से देख सकते है. 

दीपावली पर हिंदी निबंध - Deepawali Essay in Hindi 2019 

दोस्तों diwali ही एक ऐसा त्यौहार है. जो हर वो इंसान चाहे वो गरीब हो या अमीर diwali हर किसी के लिए खुशियाँ को बाहर लेकर आता है. हरेक आदमी इस त्यौहार को बड़े ही धूमधाम से मानते है. इतना ही नहीं diwali का त्यौहार हर स्कूल कॉलेज और दफ्तरों में भी बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है.
Diwali हर साल October या November महीने में होता है. Diwali का महीना आते ही लोग अपने घरों और दफ्तरों की साफ सफाई करने में लग जाते है. इस त्यौहार में सभी लोग अपने और अपने परिवार के नए - नए कपड़ों की खरीदारी करते है.
इस त्यौहार में मिठाई खाते हैं, दीप जलाते है, पटाखे जलाते हैं, लक्ष्मी-गणेश भगवान की पूजा करते हैं।दीवाली के त्यौहार के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप नीचे दिए गए निबंध पढ़ सकते हैं।
"Diwali par nibandh hindi me, Happy Diwali Essay in Hindi 2018, Essay on deepawali in hindi for students, Deepawali par hindi nibandh,  Diwali ka nibandh, Simple essay on diwali for school students in hindi, 10 lines essay on diwali in hindi."

दीपावली पे निबंध (Diwali Essay in Hindi 400-500 Words)

सभी पाठकों को TechTrick Online की तरफ से Happy Diwali 2019, जैसा की हम सब को पता है. Deepawali हिन्दुओं का साल का सबसे बड़ा त्यौहार है. Diwali के दिन लोग शाम को अपने घरों , दफ्तरों और स्कूल में दीये और मोमबत्ती जलाते है. Diwali में लोग अपने घर के Gate पे रंगबिरंगे Rangoli Design बनाते है. Rangoli के चोरों ओर दीया और मोमबत्ती जला कर Rangoli को भी सजाया जाता है.
वही लोग दिवाली में लोग अपने घर की बहुत तरह की लड़ी वाली Light से सजाते है. Diwali के दिन मानो की घर बिलकुल दुल्हन की तरह सजा दिया जाता है. यह त्यौहार कार्तिक मास के कृष्ण-पक्ष की अमावस्या को पुरे भारत में बड़ी धूमधाम और उत्साह के साथ मनाया जाता है।
वही Diwali से दो दिन पहले धनतेरस भी होता है. जिसमे लोग जम के नई -नई चीज़ों की ख़रीदरारी करते है. दिवाली से एक दिन पहले छोटी दीपावली और एक दिन बाद छोटी दिवाली मनाई जाती है. वैसे तो Diwali कुल पांच दिन तक मनाई जाती है.
Deepawali की रात दीप , मोमबत्ती और बिजली वाली अलग -अलग लाइट से इस तरह सजाया जाता है. और उनकी इतनी तेज़ लाइट होती है. की अमावस्या की रात पूर्णिमा की रात जैसे जगमगाती है. ऐसा माना जाता है. जब पुर्सोतम श्री राम 14 साल बनवास काटकर सीता और अपने छोटे भाई लक्ष्मण के साथ अयोध्या लौटे थे। इसके आने की ख़ुशी में अयोध्या वासियों ने दिये जलाये थे। साथ ही हर घर मिठाईयां बाँटी थी।
तब से लेकर अब तक हर वर्ष इस दिन को दीवाली के त्यौहार के रूप में मनाया जाता है। लोग आज भी इस दिन को उतने की खुशी से मनाते हैं। ये त्यौहार बच्चा, बूढें, बड़े हर कोई बहुत ही अच्छे से मनाता है। Diwali को बुराई पर सच्चाई की विजय का प्रतीक भी माना जाता है. ऐसा इसलिए क्योंकि श्री राम चंद्र जी इस दिन रावण का वध कर विजय प्राप्त करके लंका से अयोध्या वापस लौटे थे। तो मुझे आशा है की आप जान चुके होंगे  Diwali क्यों मनाया जाता है.

सरकारी नौकरी Sarkari Naukari  की हर जानकारी हिंदी में 

essay on diwali in hindi for kids ( बच्चों के लिए दिवाली पर निबंध)

दीपावली में दो शब्द जुड़ा हुआ है. दीपा+वली इसका मतलब है. दीपा: जब पुर्सोतम श्री राम 14 साल बनवास काटकर सीता और अपने छोटे भाई लक्ष्मण के साथ अयोध्या लौटे थे। इसके आने की ख़ुशी में अयोध्या वासियों ने दिये जलाये थे।
वही वली : Diwali को बुराई पर सच्चाई की विजय का प्रतीक भी माना जाता है. राम चंद्र जी इस दिन रावण का वध कर विजय प्राप्त करके लंका से अयोध्या वापस लौटे थे।
दीपावली का त्यौहार (October या November ) कार्तिक मास के कृष्ण-पक्ष की अमावस्या को पुरे भारत में बड़ी धूमधाम और उत्साह के साथ मनाया जाता है। Diwali का महीना आते ही लोग अपने घरों और दफ्तरों की साफ सफाई करने में लग जाते है. इस त्यौहार में सभी लोग अपने और अपने परिवार के नए - नए कपड़ों की खरीदारी करते है.
Diwali सब  दूसरे को बधाई और मिठाई खिला कर और बहुत से उपहार भी तोहफे (Gift) के रूप में देते हैं। साथ ही सब लोग पटाखा, फुलझरी को जलाकर ख़ुशी मानते है. पुरे भारत में दिवाली के पुरे रात लोगों के घरों में रंग बिरंगे लाइट जगमाते रहते है.
Deepawali के शाम पुरे परिवार के साथ नए - नए कपडे पहन कर लक्ष्मी और गणेश जी की पूजा करते है. फिर सब अपने - अपने मनोकामना पूर्ण करने की प्राथना करते है. उसके बाद लक्ष्मी जी  आरती की  जाती है. फिर सब आपस में एक दूसरे को प्रसाद को वितरण करते है.
पूजा करने के बाद लोग अपने -अपने परोशियों  भी मिठाई प्रसाद के रूप में बांटते है. और साथ में परोसी भी प्रसाद देते है. साथ ही अपने दोस्तों को मिठाई या कोई और पकवान के साथ दिवाली की शुभकामनाएं देते है। फिर थोड़ा आतिशबाजी भी करते है.
Diwali में लोग आकाश दिप को भी जलाते है. आकाश दिप यानि गुब्बारे  तरह होता लेकिन उसमे हवा के जगह दिये लगे होते है. जिसको जलाने पर वह दीप ऊपर उड़ जाता है. जब तक उसमे दीप जलता है. तब तक वह ऊपर में उरते रहते है.

essay on diwali in hindi 200 - 400 word (दीपावली पे निबंध)

Diwali 2019 Date in India Calendar: भारत में मनाए जाने वाले सबसे प्रमुख त्योहारों में से एक दिवाली, अंधकार पर प्रकाश की विजय का संकेत देती है, बुराई पर अच्छाई की। इस वर्ष यह 27 अक्टूबर को मनाया जाएगा।
हिंदी कैलेंडर के अनुसार, कार्तिक के 15 वें दिन as अमावस्या ’या अमावस्या के दिन रोशनी का त्योहार मनाया जाता है। फसल के मौसम के अंत में शुरू, यह अक्सर धन और खुशी से जुड़ा होता है।
पौराणिक कथाओं के अनुसार, दिवाली को सातवीं शताब्दी के संस्कृत नाटक नागानंद में दीपप्रतिपादुत्सव के रूप में संदर्भित किया गया है, जिसमें नवविवाहित जोड़ों को भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी के विवाह की याद में दीपक और अन्य चीजें भेंट की गई थीं।
कवि राजशेखर की नौवीं शताब्दी के काम में इसे दीपमालिका के रूप में संदर्भित किया गया है, जहां घरों की सफाई और रोशनी से सजाया जाता है। भारत में फ़ारसी यात्री और इतिहासकार अल-बिरूनी की 11 वीं शताब्दी के संस्मरण समारोह का भी उल्लेख है।
आज, कई लोग 14 साल के वनवास के बाद भगवान राम और सीता की वापसी की याद में इसे मनाते हैं, जबकि अन्य 12 साल के वनवास और एक वर्ष के बाद पांडवों की वापसी का सम्मान करते हैं।
एक लोकप्रिय किंवदंती के अनुसार त्योहार, कार्तिका अमावस्या पर यम और नचिकेता की कहानी से भी जुड़ा है - जो कि सच्चे धन, ज्ञान और सही बनाम गलत की कहानी को बयान करता है। यह भी एक कारण है कि दिवाली को समृद्धि, ज्ञान और प्रकाश के त्योहार के रूप में मनाया जाता है।
तो दोस्तों मुझे पूरा विश्वाश है. आपको दीपावली पे निबंध लिखना आगया होगा वही अगर आप एक student है. तो आपको Examination में Diwali पे निबंध लिखने को कहा जाये तो अब आप बहुत ही आसानी से लिख सकते है. अगर आपको इस Articles diwali essay in hindi से कुछ सीखने को मिला हो तो हमे Comment में जरूर बताये। साथ ही अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Comments